Wednesday , October 16 2019
Home > Sports > क्या आप क्रिकेट में आउट होने के 10 तरीके जानते हैं?
types of out in cricket game क्रिकेट में आउट होने के तरीके
Source: Cric Star Youtube

क्या आप क्रिकेट में आउट होने के 10 तरीके जानते हैं?

क्या आपको क्रिकेट में आउट होने के 10 तरीके पता है? भारत में क्रिकेट सबसे मशहूर खेलों में से एक है। इसका जुनून भी लोगों के सिर चढ़ कर बोलता है। क्रिकेट के अपने कई नियम है और इन्हीं के दायरे में ये पूरा खेला चलता है। इस खेल के नियम और कानून ICC और Melbourne Cricker Club के द्वारा देखे जाते हैं।

कुछ इसी तरह क्रिकेट में आउट होने के भी कई नियम है और उनमें से कुछ के बारे में लोग जानते भी नहीं है, तो आज हम आपको अपने इस आर्टिकल में क्रिकेट में आउट होने के प्रकार के अंतर्गत सभी नियमों के बारे में बताएंगे जिससे कोई बल्लेबाज आउट हो सकता है।

क्रिकेट में आउट होने के 10 तरीके

बोल्ड – ये क्रिकेट में आउट होने का सबसे आम नियम है, जब गेंदबाज के द्वारा डाली गई गेंद सीधा विकेट पर जाकर लग जाए और बेल्स गिर जाएं तो बल्लेबाज को आउट दिया जाता है। लेकिन अगर बेल्स नहीं गिरी और आजकल तो लाइट वाली विकेट का इस्तेमाल किया जाता है तो लाइट नहीं जली तो आउट नहीं दिया जाएगा।

कैच – ये भी काफी आम श्रेणी है जिससे बल्लेबाज को आउट किया जा सकता है, लेकिन कैच आउट 3 तरह के होते हैं। एक तो फिल्डर द्वारा पकड़ा गया कैच होता है, जिसमें बॉल को फील्डर कैच करता है। दूसरा होता है कॉट और बोल्ड यानी की गेंदबाज के द्वारा ही जो कैच पकड़ा जाता है वो इस कैटेगरी में आता है। तीसरा होता है कॉट बिहाइंड इसमें जो कैच विकेट के पीछे लिया जाता है वो शामिल होता है, यानी कि विकेट कीपर या स्लीप पर खड़ा फील्डर जो कैच लेता है उसे कॉट बिहाइंड कहते हैं।

स्टंप – ये अगर बल्लेबाज से गेंद मिस हो जाती है और वो शॉट खेलते वक्त क्रीज से बाहर है तो विकेटकीपर उस वक्त गेंद को स्टंप से टच करके आउट कर सकता है।

Stump Out
Photo: Getty Images

हिट विकेट – इसमें तो बल्लेबाज खुद को ही आउट कर देता है, जी हां अगर गेंद खेलते वक्त बल्लेबाज का बैट या शरीर का कोई हिस्सी विकेट से जा लगे और बेल्स गिर जाए तो वो आउट करार दिया जाएगा।

रन आउट – अगर एक बल्लेबाज रन लेने के लिए भागता है और उसके रन पूरा करने से पहले ही फील्डर विकेट उड़ा दे तो तो उसे रन आउट करार दिया जाता है।

LBW – अगर गेंद स्टंपलाइन के अंदर है और बल्ले से हिट न होकर शरीर के उस हिस्से से टच हो जिसके पीछे विकेट छिप रहा हो। यानी ऐसा महसूस हो कि गेंद अगर बैट्समैन के शरीर पर नहीं लगती तो वो सीधा विकेट में जाकर लगती। इस केस में उसे (Leg Before Wicket) एलबीडब्ल्यू आउट दिया जाता है। बशर्ते गेंद विकेट को ही लगने वाली हो और उसमें बैट न लगा हो।

रिटायर्ड – अगर कोई बल्लेबाज बिना अंपायर की और विपक्षी टीम के कप्तान की सहमती के बिना फील्ड को छोड़ कर चला जाता है तो उसे आउट करार दिया जाता है और वो खिलाड़ी दोबारा बल्लेबाजी करने नहीं आ सकता है।

हैंडलिंग बॉल – अगर बल्लेबाज बिना फील्डर टीम की अनुमति के गेंद को बिना बल्ले के टच किये हाथ से टच कर देता है और फील्डिंग टीम अपील करती है तो उसे आउट दिया जाता है।

Photo: The Sun

ऑबस्ट्रक्टिंग द फील्ड – जब बल्लेबाज रनआउट से बचने के लिए गेंद को अपने बैट या शरीर के किसी अंग से रोके या उसकी दिशा बदल दे या फिर भागते वक्त अपनी दिशा बदल कर स्टंप को ब्लॉक करने की कोशिश करे तो उसे आउट दिया जाता है।

Source: IPL

टाइम-आउट – एक बल्लेबाज के आउट होने के बाद दूसरे बल्लेबाज को अगले 3 मिनट के अंदर मैदान में आना होता है, अगर वो ऐसा नहीं करता है तो उसे भी आउट दिया जाएगा। ये समय वनडे में 3 मिनट और टी-20 में 2 मिनट का होता है।

पढ़ें-क्या है Obstructing The Field? 10 बार इस नियम से आउट हुए बल्लेबाज

पढ़ें-IPL इतिहास में रोहित शर्मा के अलावा इन 15 खिलाड़ियों ने लिए हैट्रिक विकेट

ये भी पढ़ें

hat trick wickets in ipl history

IPL इतिहास में रोहित शर्मा के अलावा इन 15 खिलाड़ियों ने लिए हैट्रिक विकेट

IPL भारत मे किसी त्योहार से कम नहीं है। इस टूर्नामेंट में ऐसे-ऐसे मुकाबले दिखते …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *