Wednesday , December 19 2018
Home > Technology > क्या बंद होने जा रही है Aircel? जान लीजिए इससे जुड़ी 8 बड़ी बातें
Aircel bankruptcy

क्या बंद होने जा रही है Aircel? जान लीजिए इससे जुड़ी 8 बड़ी बातें

अगर आप भी Aircel के यूजर हैं या फिर पहले यूजर रह चुके हैं तो आपको ये 8 बातें जानना जरूरी है।

 

1- देश की एक और बड़ी टेलीकॉम ऑपरेटर कंपनी एयरसेल (Aircel) दिवालिया होने के कगार पर पहुंच गई है। कंपनी ने मुंबई के नेशनल कंपनी लॉ ट्राइब्यूनल (NCLT) में खुद को बैंकरप्ट यानी दिवालिया घोषित करने के लिए आवेदन दिया है। इस बात की जानकारी कंपनी ने खुद प्रेस रिलीज जारी कर दी है।

 

2- साल 1999 में टेलीकॉम सेक्टर में एंट्री करने वाली कंपनी Aircel अबतक के सबसे मुश्किल हालात में है। Aircel यूजर्स दूसरे कंपनी में अपना नंबर पोर्ट करवा रहे हैं तो वहीं Aircel के कर्मचारी दूसरी नौकरी ढूंढने पर मजबूर हैं।

 

3- रिपोर्ट्स के मुताबिक Aircel पर 15,500 करोड़ रुपये से ज्यादा का कर्ज है। इसलिए पिछले कई महीनों से फंडिंग के लिए जूझ रही Aircel ने आखिरकार हार मान लिया और खुद को दिवालिया घोषित करने के लिए आवेदन दे दिया है।

 

4-  हाल ही में Aircel ने 6 टेलीकॉम सर्कलों में अपनी सर्विस बंद कर दी है। इन 6 की लिस्ट में गुजरात, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश और पश्चिमी उत्तर प्रदेश राज्य शामिल हैं। इन राज्यों में यूजर्स कॉल ड्रॉप और नो सिग्नल जैसी समस्याओं के लिए परेशान हो चुके हैं।

 

5-  Aircel भारत में छठवीं सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी है। Aircel के पास करीब 8 करोड़ ग्राहक हैं। कंपनी पर आए इस संकट का मतलब यह भी है कि Aircel के साथ काम करने वाले हजारों लोगों के रोजगार पर संकट मंडरा रहा है।

 

6- साल 2016 में रिलायंस जियो के बाजार में आने के बाद से कई कंपनियों को नुकसान हुआ है। यूनिनॉर, रिलायंस कम्युनिकेशंस (R.com) और टाटा डोकोमो जैसे कई नाम लगभग खत्म हो चुकी है। इसकी वजह जियो को भी माना जा सकता है क्योंकि जियो ने आते ही फ्री में या कम कीमतों में अपनी सर्विस देनी शुरु कर दी थी। इसका असर कितना हुआ वो इस बात से भी लगा सकते हैं कि दो दिग्गज टेलीकॉम कंपनियां आइडिया और वोडाफोन ने हाथ मिला लिये।

 

7- आगे क्या?
Aircel को यह फैसला तब लेना पड़ा जब मलेयेशिया की कंपनी मैक्सिस अपने शेयरहोल्डर्स और कर्जदाताओं के बीच कोई भी आम सहमति बनाने में सफल नहीं हुई। तो अब अगर नेशनल कंपनी लॉ ट्राइब्यूनल एयरसेल की दिवालिया घोषित करने की अपील पर विचार करता है तो वह एक इनसॉल्वेंसी रिजॉल्यूशन प्रफेशनल नियुक्ती करेगा जिसे 270 दिनों के भीतर कंपनी के रीपेमेंट प्लान तैयार करना होगा। अगर रेजॉलूशन प्रफेशनल ट्राइब्यूनल को रीपेमेंट प्लान देने में या उसपर सहमति बनाने में नाकामयाब रहता है तो कंपनी को बैंकरप्ट घोषित कर दी जाएगी।

 

8- ग्राहक हो रहे हैं परेशान

इन सबके बीच Aircel का सिम इस्तेमाल करने वाले ग्राहक परेशान हैं। कंपनी के दिवालिया होने से पहले ही सर्वर ने काम करना बंद कर दिया है। ऐसे में यह साफ नहीं है कि एयरसेल यूजर्स का क्या होगा। क्या इन सभी नंबर को किसी और नेटवर्क पर ट्रांसफर किया जाएगा? या कुछ और तरीका निकाला जाएगा यह साफ नहीं है।

ये भी पढ़ें

xiaomi-mi-a2-launch-price-features

शाओमी Mi A2 भारत में लॉन्च, जानिए कीमत और फीचर्स

दोस्तों काफी लंबे इंतजार के बाद चीन की स्मार्टफोन कंपनी शाओमी ने भारत में अपना …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *