Sunday , November 18 2018
Home > Sports > BCCI का दिखावा है मोहम्मद शमी के निजी मामले पर फैसला लेना!
bcci-have-no-rights-to-mix-personal-and-professional-life-of-mohammed-shami

BCCI का दिखावा है मोहम्मद शमी के निजी मामले पर फैसला लेना!

9 मार्च 2018 को भारतीय टीम के अनुभवी तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने अपना 28वां जन्मदिन मानाया। हालांकि ये कहना गलत नहीं होगा की यह दिन उनके लिए किसी काले दिन से कम नहीं था। कारण क्या है, ये अबतक सभी जान चुके है। शमी के लिए इस वक्त हर एक दिन काटना भारी पड़ा रहा है। हो भी क्यों ना? उनकी पत्नी ने उनपर मारपीट, दहेज प्रताड़ना, दूसरी महिलाओं से संबंध रखने, पाकिस्तान कनेक्शन और मैच फिक्सिंग जैसे संगीन आरोप जो लगाए हैं।

 

इस सब बातों का सीधा असर शमी के करियर पर भी पड़ सकता है, या यूं कहे कि पड़ चुका है। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने शमी को सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट से बाहर कर दिया है। इस खबर के साथ मीडिया में शमी का लिस्ट में नाम न होने की वजह उनकी पत्नी की तरफ से लगाए गए गंभीर आरोपों को माना जा रहा है।

 

BCCI ने तब अबतक इस बारे में कुछ साफ-साफ नहीं कहा है लेकिन BBC की एक रिपोर्ट के अनुसार, बोर्ड के एक अधिकारी से जब ये पूछा गया कि क्या मोहम्मद शमी को टीम से बाहर कर दिया गया है, तो उन्होंने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि, ”मोहम्मद शमी को टीम के बाहर नहीं किया गया है। वो सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट वाले खिलाड़ी हैं लेकिन उनका नाम अभी रोका गया है।”

 

नाम रोकने की वजह शमी और उनकी पत्नी के बीच विवाद है कि नहीं…यह पूछे जाने पर अधिकारी ने बताया, ”जैसा कि मैंने कहा कि वो सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट हासिल खिलाड़ी हैं और उनका नाम सिर्फ रोका गया है, और ऐसा हालिया घटना की वजह से किया गया है।”

bcci-have-no-rights-to-mix-personal-and-professional-life-of-mohammed-shami

BCCI ने तो मौजूदा समय तक शमी का नाम कॉन्ट्रैक्ट में शामिल न करके पल्ला झाड़ लिया है लेकिन ये सोचने वाली बात होगी कि क्या मैदान में प्रदर्शन और निजी जीवन के विवादों का आपस में कोई लेना-देना है? इसके बाद शमी पर गाज और तब गिरी जब BCCI के बाद IPL ने भी अपना रंग दिखा दिया। जी हां, BCCI के अगले आदेश या यूं कहे कि शमी पर आखिरी फैसला देने तक उनका IPL में दिल्ली डेयरडेविल्स की तरफ से खेलना भी संदिग्ध माना जा रहा है।

 

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) की फ्रेंचाइजी दिल्ली डेयरडेविल्स मोहम्मद शमी से जुड़े विवाद पर करीबी नजर रखे हुए है और समीक्षा कर रही है। अगर मोहम्मद शमी और उनकी पत्नी हसीन जहां के बीच का यह विवाद जल्दी ही नहीं सुलझता है तो शमी का IPL में खेलना संदिग्ध हो सकता है। बता दें कि दिल्ली ने नीलामी में मोहम्मद शमी को 3 करोड़ रुपए में खरीदा था।

 

आपको बता दे कि ऐसा पहली बार नहीं जब किसी खिलाड़ी पर उनकी पत्नी या महिला मित्र द्वारा प्रताड़ना या अवैध संबंध का आरोप लगाया गया है। इससे पहले भारतीय स्पिनर अमित मिश्रा पर भी उनकी महिला मित्र और प्रोड्यूसर वंदना जैन ने बदसलूकी किए जाने का आरोप लगाया था और उनके खिलाफ FIR भी दर्ज कराया था। हालांकि इस मामले पर बेंगलुरू पुलिस ने मिश्रा से पूछताछ करते छोड़ दिया था लेकिन तब मिश्रा के ऊपर भी BCCI द्वारा बैन लगाए जाने कि खबरों ने खूब तूल पकड़ा था।

 

इनसब के बीच एक बड़ा सवाल ये उठता है कि क्या BCCI के पास ये अधिकार है कि वो किसी खिलाड़ी के पर्सनल लाइफ जोड़कर उनके प्रोफेशनल लाइफ का फैसला ले सके? और अगर ऐसा हो सकता है तो यह किस हद तक सही है इसका जवाब भी BCCI से ही मांगना वाजिब होगा।

 

नोट- यह पोस्ट वंदना लोहानी ने हमारे प्लेटफॉर्म पर लिखा है और पेशे से ये एक स्पोर्ट जर्नलिस्ट हैं। यदि आप भी कुछ लिखना चाहते हैं तो फेसबुक पर मैसेज में या theindianclick@gmail.com पर हमें मेल भेज सकते हैं।

ये भी पढ़ें

IPL XI: आईए नजर डालें उस प्लेइंग इलेवन पर जिन्हें किसी भी टीम में जगह नहीं मिल पाई है

IPL के 11 वें सीजन की नीलामी में इस बार कुछ अलग ही मंजर देखने …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *