Tuesday , August 20 2019
Home > Technology > मिलिए उस लड़की से जिसने ब्लैक होल की पहली तस्वीर बनाने में मदद की
ब्लैक होल की पहली तस्वीर Black hole first real image Katie Bouman

मिलिए उस लड़की से जिसने ब्लैक होल की पहली तस्वीर बनाने में मदद की

10 अप्रैल 2019 को पहली बार एक ब्लैक होल की असली तस्वीर सामने आई है। यह तस्वीर विज्ञान और मानव जाति के लिए ऐतिहासिक उपलब्धि से कम नहीं है।

100 से ज्यादा रिसर्चर इस वैज्ञानिक चमत्कार ब्लैक होल के पीछे थे। लेकिन यह एक 29 साल की MIT ग्रेजुएट लड़की के कोशिशों के बिना संभव नहीं हुआ होता। इस लड़की का नाम (Katie Bouman) केटी बोमन है जिन्होंने इमेजिंग मेथड्स के लिए एक आवश्यक एल्गोरिदम विकसित करने में मदद की।

Black hole image creator Katie Bouman

तीन साल पहले, केटी बोमन ने एक एल्गोरिदम बनाने वाली टीम को लीड किया, जिसने अंत में सुपरमैसिव ब्लैक होल की तरह दिखने वाली इमेज को पकड़ने में मदद की।

इससे पहले वह मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (Massachusetts Institute of Technology) में कंप्यूटर साइंस एंड आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस में ग्रेजुएशन की स्टूडेंट थी।

Black hole image creator Katie Bouman

टेलीस्कोपों ​​द्वारा लाखों गीगाबाइट डाटा इकट्ठा किए जाने के बाद भी, कई बड़े गैप्स थे जिन्हें ब्लैक होल की इमेज बनाने के लिए भरने की आवश्यकता थी।

केटी बोमन द्वारा बनाए गए एल्गोरिदम ने रिसर्चर्स को फाइनल तस्वीर बनाने में मदद की।

Black hole image creator Katie Bouman

रिसर्च सीक्रेट होने के कारण केटी बोमन के काम को लंबे समय तक गुप्त रखा गया था। Time से बात करते हुए केटी ने कहा:

“हमारे लिए होंठों को सील कर के रखना वास्तव में कठिन है। मैंने Black Hole की तस्वीर के बारे में अपने परिवार को भी नहीं बताया था।”

केटी का नाम तब सामने आया जब उनकी दो पुरानी तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल होने लगीं।

केटी बोमन ने अपने इस प्रोजेक्ट की खुशी सोशल मीडिया पर जाहिर की।

वहीं, CNN से बातचीत करते हुए Katie Bouman ने कहा:

“हममें से कोई भी इसे अकेले नहीं कर सकता था। कई फिल्ड के अलग-अलग लोगों के प्रयास के कारण यह संभव हुआ है।”

इस ऐतिहासिक उपलब्धि के लिए केटी बोमन का महत्वपूर्ण योगदान भविष्य में कई और महिला वैज्ञानिकों के लिए रास्ते खोलेगा।

क्या होता है ब्लैक होल? (What is black hole in hindi)

ब्लैक होल स्पेस में वो जगह है जहां विज्ञान का कोई नियम काम नहीं करता है और इसका गुरुत्वाकर्षण क्षेत्र बहुत ज्यादा शक्तिशाली होता है। ब्लैक होल के चारों ओर एक सीमा होती है। उसमें वस्तुएं गिर तो सकती है लेकिन बाहर कभी नहीं आ सकती है। इसे “ब्लैक होल” इसलिए कहा जाता है क्योंकि यह अपने ऊपर पड़ने वाले सारे प्रकाश को अवशोषित कर लेता है और बदले में कुछ भी परावर्तित नहीं करता है।

ये भी पढ़ें

wife-want-divorce-because-husband-dont-take-bath

पति नहाता नहीं था इसलिए परेशान पत्नी पहुंची तलाक लेने, क्या आप भी नहीं नहाते?

देखा जाए तो पति और पत्नी के रिश्ते को 7 जन्मों का माना जाता है। …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *