Thursday , July 1 2021
Home > Entertainment > दुनिया में इन दो लोगों के पास हैं नोबेल प्राइज और ऑस्कर अवॉर्ड
bob-dylan-george-bernard-who-won-nobel-prize-oscar-award-both

दुनिया में इन दो लोगों के पास हैं नोबेल प्राइज और ऑस्कर अवॉर्ड

तो दोस्तों लंबे इंतजार के बाद लॉस एंजिल्स में 90वा ऑस्कर अवॉर्ड्स इवेंट खत्म हुआ। किन-किन फिल्मों को ऑस्कर अवार्ड्स मिले हैं अब तक आपको पता चल ही गया है। अगर आपको नहीं पता तो आप ऑस्कर विनर्स की पूरी लिस्ट यहां देख सकते हैं।

 

खैर हम आपको कुछ और दिलचस्प बात बताने वाले हैं। ऑस्कर (Oscar) अवॉर्ड और नोबेल (Nobel) प्राइज के बारे में तो आप सब जानते ही होंगे। अगर नहीं जानते तो आपको बता दें कि ऑस्कर अवॉर्ड सिनेमा जगत में असाधारण काम करने पर दिया जाता है। फिल्म के लिए एक्टिंग, डायरेक्शन, सिंगिंग, राइटिंग आदि इनमें से किसी भी एक डिपार्टमेंट में अच्छा काम करने पर आप ऑस्कर के दावेदार बन सकते हैं।

 

वहीं, नोबेल पुरुस्कार शांति, साहित्य, भौतिकी, रसायन, चिकित्सा विज्ञान और अर्थशास्त्र के क्षेत्र में शानदार काम करने पर दिया जाता है। इस पुरस्कार को दुनिया का सर्वोच्च सम्मान माना जाता है।

 

इन दोनों ही अवार्ड्स में से किसी एक का भी पास होना गर्व की बात है। लेकिन क्या हो अगर किसी इंसान के पास ये दोनों बड़े अवार्ड्स हो। ये दो शख्सियत थे जो जॉर्ज बर्नार्ड शॉ और बॉब डिलन…

 

जॉर्ज बर्नार्ड शॉ

बर्नार्ड शॉ एक बड़े लेवल के प्ले राइटर थे। इसके अलावा वे आलोचक और एक पॉलिटिकल एक्टिविस्ट भी थे। जॉर्ज बर्नार्ड शॉ ने फिल्मों के लिए भी लिखा। साल 1925 में उन्हें साहित्य के लिए नोबल प्राइज दिया गया था।

bob-dylan-george-bernard-who-won-nobel-prize-oscar-award-both

जैसा कि हमने बताया कि उन्होंने फिल्मों के लिए भी लिखा है, तो नोबल प्राइज के 13 साल बाद उन्हें ऑस्कर भी मिला। यह ऑस्कर उन्हें ‘पिगमेलियन’ फिल्म का स्क्रीनप्ले लिखने के लिए मिला। ऑस्कर हासिल करते वक्त उनकी उम्र 82 साल थी।

 

साल 2016 तक जॉर्ज बर्नार्ड शॉ दुनिया में ऐसे अकेले आदमी थे, जिनके पास ऑस्कर और नोबेल दोनों अवार्ड थे। फिर उनके बराबर में बॉब डिलन भी आ बैठे।

 

बॉब डिलन

बॉब डिलन अमेरिकन सिंगर, म्यूजिक कंपोजर और राइटर हैं। जब जॉर्ज बर्नार्ड शॉ की मौत हुई थी बॉब सिर्फ 9 साल के थे। 1965 में आए बॉब के गीत ‘लाइक अ रोलिंग स्टोन’ ने लोगों की दिल को झिंझोड़कर रख दिया था। बॉब ने एक पूरी नस्ल की ओर से सभ्यता के ठेकेदारों से सवाल किया था। “How does it feel to be without home, like a rolling stone?”

Oscar-man

 

बॉबी डिलन के गाने “ब्लोइन इन द विंड” और “टाइम्स दे आर अ-चेंजिन” युद्ध विरोधी मुहिमों के एंथम बन गए थे। बॉब को साल 2000 में बेस्ट ओरिजिनल सॉन्ग कैटेगरी में ऑस्कर अवॉर्ड मिला। फिल्म थी ‘वंडर बॉयज’ और गाना था, ‘थिंग्स हैव चेंज्ड’।

 

आपको बता दें कि साहित्य में उन्हें नोबेल दिए जाने की चर्चा तो कई साल चली लेकिन अवॉर्ड मिलते-मिलते 2016 आ गया। 13 अक्टूबर 2016 को उन्हें साहित्य के नोबेल पुरस्कार से नवाजा गया।

 

बॉब को साल 2000 में बेस्ट ओरिजनल सॉन्ग कैटेगरी में ऑस्कर अवॉर्ड मिला। फिल्म थी ‘वंडर बॉयज’ और गाना था, ‘थिंग्स हैव चेंज्ड’।
इस तरह ऑस्कर और नोबल प्राप्त करने वाले इन दो शख्सियतों के अलावा दुनिया में किसी के हिस्से में ये सम्मान अब तक नहीं आया।

 

ये भी पढ़ें

ऋषि कपूर के मशहूर डायलॉग

ऋषि कपूर के मशहूर डायलॉग जो कभी नहीं भूलाए जाएंगे!

बॉलीवुड के सदाबहार एक्टर ऋषि कपूर का निधन हो गया है। वो लंबे वक्त से …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *