Tuesday , December 10 2019
Home > Lifestyle > 5 आसान उपाय जो बालों को प्रदूषण से बचाने में कर सकते हैं मदद

5 आसान उपाय जो बालों को प्रदूषण से बचाने में कर सकते हैं मदद

प्रदूषण का असर अब दुनिया के हर देश और शहर में दिखाई देने लगा है। हम सभी को घर से बाहर कदम निकालते ही प्रदूषण का कहर झेलना पड़ता है। प्रदूषण का असर न सिर्फ हमारी स्किन पर बल्कि बालों और बियर्ड पर भी देखने को मिलता है।

ये बात सुनकर भले ही आपको यकीन न आए, लेकिन सच यही है कि बालों पर भी प्रदूषण का असर पड़ता है। फिर चाहें बाल ताजे धुले हुए हों या फिर उन्हें अच्छी तरह से स्टाइल किया गया हो। जैसे ही आप घर से कदम बाहर निकालते हैं वातावरण में मौजूद स्मॉग और प्रदूषण आपके बालों की सेहत पर बुरा असर डालना शुरू कर देते हैं।

दिल्ली, मुंबई और गुरुग्राम जैसे मेट्रो शहरों में हमें धूल-मिट्टी के साथ ही स्मॉग, ट्रैफिक और नमी का सामना एक साथ करना पड़ता है। ये सभी चीजें न सिर्फ हमारी स्किन बल्कि बालों की सेहत को भी दिनों-दिन खराब करती चली जाती हैं। इमें इन सारी समस्याओं से निपटने के लिए निश्चित तौर पर उपाय करने चाहिए।

इसीलिए इस आर्टिकल में मैं आपको प्रदूषण से बालों को बचाने के 5 आसान उपायों की जानकारी दूंगा। इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आप जान जाएंगे कि प्रदूषण से बालों को कैसे बचाएं?

बालों को प्रदूषण से कैसे बचाएं? (How To Protect Your Hair From Pollution?)

  1. बालों में नियमित रूप से स्टीम लें (Pamper Yourself With Steam)

प्रदूषण के कारण बालों के खराब होने की शुरुआत हमेशा बालों की प्राकृतिक नमी खत्म होने से ही होती है। जी हां, ये पूरी तरह से सच है। प्रदूषण के हानिकारक तत्व न सिर्फ आपके बालों बल्कि बालों के नीचे की स्किन (स्कैल्प) से भी नमी को खत्म करने लगते हैं। इसकी वजह से बालों में न सिर्फ रूखेपन बल्कि पतले होने और टूटकर झड़ने की समस्याएं भी होने लगती हैं। इन सारी समस्याओं का अंत मेल पैटर्न बाल्डनेस/ गंजेपन के रूप में देखने को मिलता है।

इस समस्या को दूर करने और इससे लड़ने का सबसे अच्छा उपाय स्टीम बाथ लेना है। इससे न सिर्फ आपके रूखे बालों में नमी वापस लौट आएगी बल्कि हेयर ग्रोथ में भी बढ़ोत्तरी होने लगेगी। बालों में नियमित रूप से स्टीम लेने पर स्कैल्प पर बने रोम छिद्र खुल जाते हैं इससे बालों की जड़ों में गहरे तक जाकर जम चुके प्रदूषण के कण भी बाहर निकल जाते हैं।

इसका मतलब ये बिल्कुल भी नहीं है कि आप हेयर स्पा करवाने के लिए किसी महंगे सैलून या स्पा सेंटर के चक्कर लगाने लगें। इस काम को नीचे दिए गए इन दो आर्टिकल को पढ़कर भी आप घर पर आसानी से कर सकते हैं।

2. करें सही शैंपू और कंडीशनर का इस्तेमाल (Use The Right Shampoo and Conditioner)

How To Protect Your Hair From Pollution In Hindi©Shutterstock

बालों के लिए सही शैंपू और कंडीशनर का चुनाव करने से पहले बहुत जरूरी है कि आप अपने बालों के टाइप को समझें। इसी के बाद बालों के लिए सही हेयर केयर प्रोडक्ट का चुनाव शुरू करना चाहिए। क्या आपके बाल प्राकृतिक रूप से ऑयली है या फिर रूखे और ड्राई हैं? क्या आपके बाल नॉर्मल हैं या थोड़े से नॉर्मल और थोड़े से ड्राई हैं। या फिर थोड़े से नॉर्मल और थोड़े से ऑयली हैं?

अगर आपके बालों में रूखेपन की समस्या होती हो तो आपको ऐसे शैंपू का चुनाव करना चाहिए जो न सिर्फ आपके बालों को नमी दें। बल्कि कंडीशनर भी अपने बालों की जरुरत के हिसाब से ही चुनना चाहिए।

अगर आपके बाल आसानी से ऑयली और चिपचिपे होने के साथ ही उलझकर टूटने लगते हैं तो आपको ऐसे शैंपू का इस्तेमाल करना चाहिए जो शैंपू और कंडीशनर का परफेक्ट कॉम्बो हो और आपकी ​स्कैल्प को बहुत ज्यादा ड्राई किए बिना नमी के सही स्तर को भी बनाने में मदद कर सके। अगर आप अपनी हेयर टाइप के हिसाब से शैंपू और स्किन केयर प्रोडक्ट का चुनाव करते हैं तो आपके बाल निश्चित रूप से हेल्दी और शाइनी रहेंगे।

3. बालों को दे एक्स्ट्रा सुरक्षा (Add Extra Protection To Your Hair)

How To Protect Your Hair From Pollution In Hindi© Shutterstock

घर से बाहर निकलने से पहले ये पक्का करना बहुत जरूरी है कि, आपने अपने बालों को फिजिकल और पोषण के लेवल पर सुरक्षित कर लिया है या नहीं। ऐसे माहौल में जब चारों तरफ प्रदूषण हो तब आप मास्क लगाकर सुरक्षित हवा तो ले सकते हैं लेकिन बालों को नहीं बचा सकते हैं।

इसलिए कोशिश कीजिए कि जब भी मेट्रो या ऑटो समेत किसी भी पब्लिक ट्रांसपोर्ट में सफर करें तो बालों को ढककर रखें। ये वाकई अच्छी आदत है। इसके अलावा आप बालों को नमी देने वाला हेयर सीरम भी इस्तेमाल कर सकते हैं। ये आपके बालों को सुरक्षा की एक्स्ट्रा लेयर देता है। इसे लगाने से प्रदूषित हवा न तो बालों को नुकसान पहुंचा पाती है और न ही रूखापन दे पाती है।

4. प्रोटीन युक्त भोजन का सेवन करें (Increase Your Protein Intake)

सही प्रकार के हेयर प्रोडक्ट के इस्तेमाल के साथ ही ये भी जरूरी है कि आप अपने खानपान की आदतों में भी बदलाव लाएं। बाल भी एक किस्म के प्रोटीन से ही बढ़ते हैं। हेयर केयर प्रोडक्ट सिर्फ उनकी अच्छी ग्रोथ में मदद कर सकते हैं। बालों की अच्छी ग्रोथ नेचुरली हो इसके लिए प्रोटीन युक्त आहार का सेवन करना बहुत जरूरी है।

अच्छे बालों का राज हमेशा ही पोषक आहार में छिपा होता है। इसमें भी प्रोटीन युक्त आहार हमेशा आपके बालों को बेहतर बनाने में मदद करता है। क्योंकि बाल भी प्रोटीन फाइबर्स से ही बने होते हैं। प्रोटीन युक्त आहार के सेवन में बालों की जड़ें मजबूत होती हैं और उनकी ग्रोथ में भी मदद मिलती है। प्रोटीन युक्त आहार में अंड़े, दालें, सोयाबीन की बड़ी, मछली, हरी पत्तेदार सब्जियां और रेड मीट को शामिल किया जाता है। अगर आप हेल्दी और लंबे बाल चाहते हैं तो इन चीजों का सेवन भोजन में अधिक से अधिक करने की कोशिश करें।

5. स्कैल्प को साफ रखें (Keep A Clean Scalp)

How To Protect Your Hair From Pollution In Hindi©Shutterstock

स्कैल्प सा सिर की त्वचा अगर ऑयली और चिपचिपी होगी तो बालों में प्रदूषण के कण, धूल-मिट्टी और गंदगी ज्यादा मात्रा में जमने लगती है। इसी में आप स्कैल्प की डेड स्किन को भी शामिल कर सकते हैं। इन सारी चीजों से बालों में रूसी/डैंड्रफ होने की संभावना बढ़ जाती है। एक बार डैंड्रफ हुआ और आपने लापरवाही दिखाई तो बालों के पतले होकर झड़ने का सिलसिला भी शुरू हो सकता है।

इस बात का ध्यान हमेशा रखें कि बाल कभी भी चिपचिपे न रहें। कभी भी बालों में ऑयल मसाज के तुरंत बाद घर से बाहर न निकलें। इसके अलावा जितना हो सके स्कैल्प को साफ-सुथरा रखने की कोशिश करें।

हालांकि शैंपू को बालों में रोज नहीं किया जा सकता है, इससे बालों की प्राकृतिक नमी के छिन जाने का खतरा बढ़ जाता है। लेकिन इस समस्या का समाधान ड्राई हेयर के लिए बने शैंपू को लगाकर किया जा सकता है। ड्राई हेयर शैंपू को अगर हर दूसरे या तीसरे दिन बालों की सफाई के लिए इस्तेमाल किया जाए तो आसानी से न सिर्फ बालों को साफ रखा जा सकता है बल्कि इससे उनकी नमी भी बरकरार रखने में मदद मिलेगी।

ये भी पढ़ें

10 facts about dreams सपनों से जुड़े रोचक तथ्य

सपनों से जुड़े 10 तथ्य

हर कोई सोते वक्त सपना देखता है। क्या आप भी ऐसा सोचते हैं तो ये …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *