Wednesday , June 3 2020
Home > Entertainment > इरफान खान के मशहूर डायलॉग जो हमेशा के लिए याद रहेंगे!
इरफान खान के मशहूर डायलॉग

इरफान खान के मशहूर डायलॉग जो हमेशा के लिए याद रहेंगे!

अभिनेता इरफान खान (Irrfan Khan) का 53 साल की उम्र में निधन हो गया है। इरफान खान एक बेहतरीन एक्टर तो थे ही लेकिन वो एक वॉरियर भी थे। लंबे समय तक वो न्यूरो एंडोक्राइन कैंसर से लड़े और लंदन से इलाज करवा कर वापिस लौटे। मृत्यु से कुछ ही वक्त पहले उनकी आखिरी फिल्म अंग्रेजी मीडियम भी आई। उनकी एक्टिंग के लोग इतने दीवाने थे कि कई डायलॉग मशहूर हो गए हैं। तो चलिए आज कुछ ऐसे ही डायलॉग्स पर नजर डालते हैं –

इरफान खान के मशहूर डायलॉग

जज्बा

“यहां सबका एक ही तकिया-कलाम है, हजार के नोट पे बापू को सलाम है…”

“नींद न माशूका कि तरह होती है, वक्त न दो तो बुरा मानके चली जाती है…”

“शराफत की दुनिया का किस्सा ही खत्म, अब जैसी दुनिया वैसे हम”

चॉकलेट

“प्यार अंधा होता है और प्यार में पड़ने वाले उससे बड़े अंधे होते हैं…”

“शैतान की सबसे बड़ी चाल ये है कि वो सामने नहीं आता”

डी डे

“सिर्फ इंसान गलत नहीं होते, वक्त भी गलत हो सकता है…”

“गलतियां भी रिश्तों की तरह होती हैं, करनी नहीं पड़ती, हो जाती है”

गुंडे

“अक्सर हर देश बड़ी समस्याएं सुलझाने के चक्कर में ये भूल जाता है कि उसकी कितनी बड़ी कीमत उसके अपने लोगों को चुकानी पड़ती है।”

“किस्मत की एक खास बात होती है, कि वो पलटती है।”

“चाल हम चलेंगे, शय भी हम देंगे, और मात भी हम देंगे।”

पीकू

“डेथ और शिट किसी को, कहीं भी, कभी भी आ सकती है।”

“मुझे समझ में नहीं आ रहा, बेकार में इमोशनल होके फंस तो नहीं गया हूं, सुन सच्ची में ये बेटी और बाप के चिकचिक में फंस गया हूं।”

पान सिंह तोमर

“बीहड़ में तो बागी होते हैं, डकैत मिलते हैं पार्लियामेंट में”

“देश के लिए दौड़े तो किसी ने न पूछा, अब बागी बन गए तो सब नाम जप रहे हैं पान सिंह पान सिंह”

तलवार

“किसी भी बेगुनाह को सजा मिलने से अच्छा है दस गुनहगार छूट जायें”

कसूर

“आदमी जितना बड़ा होता है.. उसके छुपने की जगह उतनी ही कम होती है।”

ये भी पढ़ें

कमांडो 3 मूवी रिव्यू

फिल्मी पर्दे पर आतंकवाद जैसे विषय को काफी भुनाया जा चुका है। इसके बावजूद फिल्मकारों …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *