Wednesday , December 19 2018
Home > Amazing World > जानिए दुनिया की सबसे छोटी सल्तनत के बारे में जहां रहते हैं सिर्फ 11 लोग…
kingdom-tavolara

जानिए दुनिया की सबसे छोटी सल्तनत के बारे में जहां रहते हैं सिर्फ 11 लोग…

एक वक्त था जब हमारे देश भारत की सीमाएं इस कदर तक फैली हुई थी कि कन्याकुमारी से लेकर अफगानिस्तान तक सिर्फ एक ही देश हुआ करता था। आपने दुनिया के कई बड़े-बड़े साम्राज्यों के किस्से सुने होंगे। चंगेज खां जिनकी बादशाहत चीन से लेकर हिंदुस्तान तक फैली हुई थी। मुगलिया सल्तनत जिसका विस्तार काबुल और कंधार से लेकर कर्नाटक तक था।

जहां इन राजाओं की सल्तनत हजारों किलोमीटर तक फैली थी और इन राजाओं की प्रजा में करोड़ो लोग हुआ करते थे। लेकिन आज हम आपको एक ऐसे राजा के बारे में बताएंगे जिसके राज में सिर्फ 11 लोग रहते हैं। और ये लोग भी पार्ट टाइम ही यहां पर रहते हैं। इस राज्य का राजा अपनी नाव और रेस्टोरेंट चलाते हैं। वो सामान्य तौर पर हाफ पैंट और सैंडल पहन कर रहते हैं। इस किंगडम का नाम है किंगडम ऑफ टवोलारा।

किंगडम ऑफ टवोलारा

इटली के सार्डीनिया प्रांत के पास भूमध्य सागर में बना ये साम्राज्य एक बेहद छोटा-सा द्वीप है। ये किंगडम, इटली के एक देश के रूप में अस्तित्व में आने से पहले से वहां पर मौजूद है। किंगडम ऑफ टवोलारा, असल में टवोलारा नाम के एक छोटे से जजीरे में फैला हुआ है। इस साम्राज्य की कुल लंबाई और चौड़ाई 5 वर्ग किलोमीटर है।

किंगडम ऑफ टवोलारा के राजा का नाम एंतोनियो बर्तिलिओनी हैं। हालांकि एंतोनियो बर्तिलिओनी का रहना-सहना और खाना-पीना सब कुछ एक आम नागरिक की तरह है। उनके मुताबिक बतौर राजा उन्हें सिर्फ मुफ्त भोजन की सुविधा ही मिलती है। लेकिन ये मुफ्त का खाना उन्हें अपने ही रेस्टोरेंट में मिलता है।

स्थापना के 180 साल

किंगडम ऑफ टवोलारा 180 साल पुराना साम्राज्य है। आज के दौर में एक द्वीप पर बसे एक साम्राज्य की बातें आमतौर पर मजाक सी लगती हैं। लेकिन यहां के लोग और राजा एंतोनियो बर्तलिओनी इसे लेकर काफी गंभीर रहते हैं। यहां के राजा और साम्राज्य का कई पुश्तों का इतिहास भी है।

एंतोनियो बर्तलिओनी के परदादा के परदादा, गुसेप बर्तलिओनी साल 1807 में दो बहनों से शादी करके इटली से भाग आए थे। उस वक्त इटली एक देश नहीं था, बल्कि इसका सार्डीनिया सूबा एक अलग साम्राज्य के तौर पर आबाद हुआ करता था। यहां दो शादियां करना गुनाह था। इसीलिए गुसेप बर्तलिओनी भागकर इस द्वीप में आकर बस गए थे।

कई देशों के साथ समझौते

कई देशों के राजाओं के साथ टवोलारा के राजाओं ने समझौते भी किए है। इनमें से एक इटली के संस्थापक कहे जाने वाले गुसेप गैरीबाल्डी भी थे। उस वक्त के सार्डीनिया के राजा विटोरियो इमैनुअल द्वितीय ने तो साल 1903 में टवोलारा के साथ शांति समझौता भी किया था।

बकिंघम पैलेस में तस्वीर

19वीं सदी में ब्रिटेन की महारानी विक्टोरिया ने दुनिया भर के राजाओं की तस्वीरें इकट्ठी करने का मिशन शुरू किया था। इस दौरान एक जहाज उन्होंने टवोलारा में भी भेजा था ताकि यहां के शाही खानदान की तस्वीर भी ली जा सके। उस दौर की तस्वीर बरसों तक इंग्लैंड के बकिंघम पैलेस की शान बढ़ाती रही है।

ये भी पढ़ें

railway-station-japan-for-one-lady

इस रेलवे स्टेशन पर सिर्फ एक लड़की के लिए चलती है खास ट्रेन

आप शायद ये बात जानते होंगे कि भारत में पहली ट्रेन 16 अप्रैल 1853 में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *