Wednesday , October 16 2019
Home > Sports > कुछ खिलाड़ी ऐसे भी हैं जिन्होंने खेला है 2 देशों के लिए वर्ल्ड कप
2 देशों के लिए वर्ल्ड कप

कुछ खिलाड़ी ऐसे भी हैं जिन्होंने खेला है 2 देशों के लिए वर्ल्ड कप

आईसीसी वर्ल्ड कप(ICC World Cup 2019) में खेलना हर क्रिकेटर का ख्वाब होता है। जो खिलाड़ी वर्ल्ड कप में अपनी नेशनल टीम का हिस्सा बनते हैं वो काफी खुशनसीब होते हैं। कुछ खिलाड़ी तो ऐसे भी है जो 2 देशों के लिए वर्ल्ड कप खेले हैं।

1- केप्लर वेसल्स(Kepler Wessels) – 1983 (ऑस्ट्रेलिया), 1992 (दक्षिण अफ्रीका)

केप्लर वेसल्स(Kepler Wessels) क्रिकेट इतिहास के पहले ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने 2 देशों के लिए वर्ल्ड कप खेले हैं। केप्लर का जन्म दक्षिण अफ्रीका में हुआ था। उन्होंने ऑस्ट्रेलिया की तरफ से साल 1983 का क्रिकेट वर्ल्ड कप खेला था। इसके ठीक 9 साल बाद उन्होंने 1992 के वर्ल्ड कप में दक्षिण अफ़्रीका की कप्तानी की थी और अपनी टीम को सेमीफाइनल तक पहुंचाया था।

2 एंडरसन कमिंस(anderson cummins) – 1992 (वेस्टइंडीज़), 2007 (कनाडा)

एंडरसन कमिंस(anderson cummins) का जन्म बारबाडोस में हुआ था। वो साल 1992 के वर्ल्ड कप में वेस्टइंडीज टीम के लिए चुने गए थे। उन्होंने कैरिबियाई टीम के लिए 5 टेस्ट मैच खेले हैं, हांलाकि वो अपने वनडे करियर में कामयाब हुए थे। उन्होंने साल 1991 से लेकर साल 1995 तक वेस्टइंडीज के लिए कुल 63 वनडे मैच खेले हैं।

क्या आप क्रिकेट में आउट होने के 10 तरीके जानते हैं?

वो साल 1992 के वर्ल्ड कप में वेस्टइंडीज टीम का हिस्सा रहे थे। इस टूर्नामेंट में उन्हें 6 मैच खेलने का मौका मिला था। लेकिन साल 1996 में कमिंस कनाडा चले गए और टोरेंटो की स्थानीय टीम के लिए क्रिकेट खेलने लगे। कमिंस ने 40 साल की उम्र में कनाडा के लिए आईसीसी वर्ल्ड कप 2007 खेला था।

3 एड जॉयस(Ed Joyce) – 2007 (इंग्लैंड), 2011 और 2015 (आयरलैंड)

बल्लेबाज एड जॉयस(Ed Joyce) का जन्म आयरलैंड में हुआ था। हांलाकि उन्होंने अपना पहला वर्ल्ड कप इसी देश के लिए खेला था। वो साल 2007 के आईसीसी वर्ल्ड कप के लिए इंग्लिश क्रिकेट टीम में शामिल किए गए थे। इस दौरान उन्होंने कनाडा और कीनिया के खिलाफ अर्धशतक भी लगाया था। इसके बाद साल 2011 के आईसीसी वर्ल्ड कप में जॉयस आयरलैंड टीम में चुने गए थे।

4 इयोन मॉर्गन (Eoin Morgan) – 2007 (आयरलैंड), 2011 और 2015 (इंग्लैंड)

एड जॉयस की तरह ही इयोन मॉर्गन(Eoin Morgan) का भी जन्म आयरलैंड की राजधानी डब्लिन में हुआ था। उन्होंने अपना पहला वर्ल्ड कप साल 2007 में आयरिश टीम के लिए खेला था। जबकि साल 2011 के वर्ल्ड कप के लिए मॉर्गन शुरू में इंग्लैंड की टीम में नहीं चुने गए थे, लेकिन चोटिल केविन पीटरसन की जगह वो इंग्लिश क्रिकेट टीम में शामिल किए गए थे। साल 2015 की आईसीसी वर्ल्ड कप के लिए वो इंग्लैंड टीम के कप्तान बनाए गए थे, इस वर्ल्ड कप में इंग्लैंड टीम का प्रदर्शन काफी बुरा रहा। वर्ल्ड कप 2019(ICC World Cup 2019) के लिए भी इयोन मॉर्गन को इंग्लैड की टीम का कप्तान बनाया गया है।

ये भी पढ़ें

hat trick wickets in ipl history

IPL इतिहास में रोहित शर्मा के अलावा इन 15 खिलाड़ियों ने लिए हैट्रिक विकेट

IPL भारत मे किसी त्योहार से कम नहीं है। इस टूर्नामेंट में ऐसे-ऐसे मुकाबले दिखते …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *