Thursday , October 22 2020
Home > Sports > IPL 2020 में ‘राहुल’ नाम तो सुना होगा
rahul tewatia ipl 2020

IPL 2020 में ‘राहुल’ नाम तो सुना होगा

इंडियन प्रीमियर लीग 2020 का धमाकेदार आगाज हुआ। महीनों के इंतजार के बाद इसमें शिरकत करने वाले खिलाड़ियों से ज्यादा तो फैंस बेताब थे। 6 महीनों की देरी और इंतजार के बाद ऐसा होना लाज़मी भी था। आईपीएल लगभग अपना आधा सफर तय कर चुका है। टीमों के प्रदर्शन में लगातार उठापटक जारी है।

इस आईपीएल में एक मजेदार इत्तेफाक देखने को मिला। वो था खिलाड़ियों का प्रदर्शन। इत्तेफाक से मेरा मतलब खिलाड़ी विशेष से है। इस आईपीएल में एक नाम ऐसा है जो फैंस और एक्सपर्ट के कानों में गुंज रहा है। ‘राहुल नाम तो सुना होगा’…

जी हां अंदाज थोड़ा फिल्मी है लेकिन सच है। आईपीएस के 13वें संस्करण में ‘राहुल’ नाम ने दर्शकों को ध्यान खासा आकर्षित किया। अब फिर वो राजस्थान रॉयल्स के राहुल तेवटिया हो, कोलकाता नाइटराइडर्स के राहुल त्रिपाठी या फिर किंग्स इलेंवन पंजाब के कप्तान लोकेश राहुल। इस सीजन “राहुल” नाम के खिलाड़ियों का प्रदर्शन निखरकर सामने आ रहा है।

राजस्थान रॉयल्स की उम्मीद बनते जा रहे है ‘राहुल’ तेवटिया

एक तरफ जहां राजस्थान रॉयल्स टीम में बेन स्टोक्स,जोस बटलर, स्टीव स्मिथ, जोफ्रा आर्चर जैसे स्टार खिलाड़ियों की भरमार है। वहां इन खिलाड़ियों ने शायद ही किसी ने मैच जीताऊ पारी खेली हो की टीम जीत सके। तो वहीं टीम में ऑलराउंडर की भूमिका निभा रहे राहुल तेवटिया ने दो बार राजस्थान के हाथ से निकल चुके मैच को अपने धमाकेदार बल्लेबाजी के दमपर अपने नाम किया।

 

पहली बार पंजाब के खिलाफ राहुल ने हारे हुए मैच में एक ओवर में 5 छक्के जड़कर अपनी टीम को जीत दिलाई। आईपीएल के 26 मैच में भी यहीं देखने को मिला। सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ राहुल तेवटिया ने फिर से कुछ अच्छे शॉट्स खेलकर टीम को जीत हासिल कराई वो भी तब जब टीम में बेन स्टोक्स की वापसी हो चुकी थी। राहुल ने अब तक खेले गए कुल 7 मैच में आलराउंड प्रदर्शन करते हुए 5 विकेट झटके है साथ ही 189 रन बनाए है। राजस्थान ने अबतक खेले गए कुल 7 मैच में से 3 में जीत हासिल की है जिसमें 2 जीत में रहुल की मुख्य भूमिका रही है।

 

किंग्स 11 पंजाब भी लोकेश ‘राहुल’ के सहारे

जब से लोकेश राहुल को किंग्स 11 पंजाब की कमान दी गई है तबसे उनका प्रदर्शन निखरकर सामने आया है। हालांकि उन्हें उनके टीम के साथी खिलाड़ियों से वो योगदान नहीं मिल पा रहा है जिससे टीम को जीत हासिल हो। इसका नतीजा यह रहा की मौजूदा आईपीएल में पंजाब 7 मैच में 1 एक जीत के साथ अंकतालिका में सबसे आखिरी स्थान पर काबिज है। अब व्यक्तिगत तौर पर राहुल के प्रदर्शन पर नजर डालें तो इस सीजन पंजाब द्वारा खेले गए कुल 7 मुकाबलों के बाद 134.84 की स्ट्राइक रेट से 387 रनों के साथ वो ऑरेंज कैप होल्डर बने हुए है। उन्हें मयंक अग्रवाल का साथ मिला लेकिन एक बार इस जोड़ी के टूटने के बाद ही टीम बिखर जाती है और पंजाब के लिए जीत नामुमकिन सा हो जाता है।

 

नाइटराइडर्स के लिए करते और लड़ते दिखते है ‘राहुल’ त्रिपाठी

बादशाह शाहरूख खान की टीम कोलकाता नाइटराइडर्स ने राहुल त्रिपाठी को इस बार अपनी टीम में जगह दी है। राहुल त्रिपाठी अभी मुख्य रूप से टीम में अपनी जगह पक्की नहीं कर पाएं है लेकिन जब भी मौका मिलता है वो केकेआर के लिए हमेशा लड़ने को तैयार रहे है। राहुल को अभी तक 3 मुकाबलों में मौका दिया गया है जिसमें उन्होंने 157.14 की स्ट्राइक रेट से 121 रन बनाए है जिसमें एक अर्धशतक भी शामिल है। चेन्नई के खिलाफ मुकाबले में राहुल त्रिपाठी केकेआर के लिए जीत के हीरो बने। उन्होंने 51 गेंद पर 81 रन बनाए, जिसमें 8 चौके और 3 छक्के शामिल थे। उनकी इस मैच जीतऊ पारी के बाद खुद शाहरूख खान ने उनकी जमकर तारीफ की और क्रिकेट एक्सपर्ट्स ने भी उन्हें खूब सराहा।

 

जाहिर तौर पर अब तक खेले गए मुकाबले में जहां कुछ टीमों ने उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन किया तो वहीं कई टीमों के खराब प्रदर्शन में टीम के स्टार खिलाड़ियों का ना चल पाना मुख्य कारण रहा है। ऐसे जब उन टीमों में तेवटिया, त्रिपाठी और लोकेश राहुल जैसे खिलाड़ी जबतक रहेंगे टीम की उम्मीद तबतर बनी रहेगी। उम्मीद इन खिलाड़ियों के साथ साथ भी भी आईपीएल के आगे के सफर में अच्छा प्रदर्शन करे और दर्शको को कुछ धमाकेदार टक्कर वाले मैच देखने को मिले।

 

By Vandana Lohani

ये भी पढ़ें

अंतिम वर्ल्ड कप

इन 5 खिलाड़ियों के लिए ये अंतिम वर्ल्ड कप होने वाला है

वर्ल्ड कप 2019 (ICC World Cup 2019) कई खिलाड़ियों के लिए खास है क्योंकि कई …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *