Wednesday , October 16 2019
Home > Understand India > सेना में भ्रष्टाचार का खुलासा करने वाला तेज बहादुर यादव अब मोदी के खिलाफ लड़ेगा चुनाव!
सेना में भ्रष्टाचार का खुलासा करने वाला तेज बहादुर यादव अब मोदी के खिलाफ लड़ेगा चुनाव, tej bahadur yadav

सेना में भ्रष्टाचार का खुलासा करने वाला तेज बहादुर यादव अब मोदी के खिलाफ लड़ेगा चुनाव!

साल 2017 में BSF का एक जवान काफी सुर्खियों में रहा था। इस जवान ने जम्मु-कश्मीर की बर्फीली नियंत्रण रेखा से एक वीडियो पोस्ट की थी, जिसने सरकार को पूरी तरह से हिला कर रख दिया था।

खाने के लिए उठाई थी आवाज

इस अर्धसैनिक बल के जवान का नाम तेज बहादुर यादव है, जो कि अब सेवा से बर्खास्त है, क्योंकि इसने सोशल मीडिया पर वीडियो डाली थी। जिसमें वो जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर पहाड़ी इलाके के बर्फीले स्थान पर सैनिकों को मिलने वाले खाने की गुणवत्ता की शिकायत करता नजर आ रहा था। इसके बाद उसे अनुशासनहीनता के आरोप में सेवा से बर्खास्त कर दिया गया था।

अगर ये वीडियो आपके ध्यान में नहीं है तो इस लिंक पर क्लिक करके देखिए वीडियो

अब एक बार फिर से ये जवान खबरों में बना हुआ है क्योंकि चुनावी मौसम में ये जवान भी अपना हाथ आजमा रहा है और इसने सीधा देश के वजीर-ए-आजम को चुनौती दे दी है। हरियाणा के रेवाड़ी में रहने वाले तेज बहादुर ने ऐलान किया है कि वो लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी से चुनाव लड़ेगा। साथ ही उसने ये भी कहा है कि वो ये चुनाव निर्दलीय लड़ेगा।

सेना में भ्रष्टाचार का खुलासा करने वाला तेज बहादुर यादव अब मोदी के खिलाफ लड़ेगा चुनाव
Photo Credit: Amar Ujala


तेज बहादुर यादव इन 2 मुद्दों पर लड़ रहे हैं चुनाव

तेज बहादुर यादव ने कहा कि वो भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए चुनाव लड़ना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि मैंने भ्रष्टाचार का मुद्दा उठाया लेकिन मुझे बर्खास्त कर दिया गया। मेरा पहला उद्देश्य सुरक्षाबलों को मजबूत करना और भ्रष्टाचार खत्म करना होगा।

वाराणसी से चुनावी मैदान में उतरने वाले तेज बहादुर यादव का कहना है कि “पीएम मोदी ने कहा था कि देश की रक्षा के लिए जान गंवाने वाले अर्धसैनिक बलों को शहीद का दर्जा दिया जाएगा, पेंशन दी जाएगी। मैं प्रधानमंत्री से पूछूंगा कि आपने जो वादे किए, उन पर आपने अब तक क्या किया? हमें इस बात का जवाब दीजिए। ये एक बराबरी की लड़ाई है, जिसमें एक तरफ असली चौकीदार है और दूसरी तरफ नकली चौकीदार खड़ा है।”


तेज बहादुर यादव की कैसी है चुनावी तैयारियां?

साथ ही तेज बहादुर ने अपनी चुनावी तैयारियों के बारे में कहा कि वो कई महीनों से इस चुनाव की तैयारी कर रहे हैं। उनका कहना है कि वाराणसी के एक हजार से अधिक लोग उनके संपर्क में हैं। उन्होंने वाराणसी की वोटर लिस्ट में अपना नाम भी दर्ज करवा लिया है। वो जल्द ही अपनी टीम के साथ वाराणसी जाएंगे।

ये भी पढ़ें

भारत में कैसे बनती है सरकार how government is formed in India difference between cabinet and council of ministers

भारत में कैसे बनती है सरकार, क्या होता है मंत्रिमंडल और मंत्रिपरिषद में अंतर?

भारत में कैसे बनती है सरकार, क्या होता है मंत्रिमंडल और मंत्रिपरिषद में अंतर? केंद्र …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *