Sunday , November 18 2018
Home > Travel > गोवा जाकर सिर्फ बीच ही नहीं बल्कि इन जगहों को भी जरूर देखें…

गोवा जाकर सिर्फ बीच ही नहीं बल्कि इन जगहों को भी जरूर देखें…

गोवा हमेशा से ही beach, पार्टी और फेनी के लिए पहचाना जाता रहा है। रात के अंधेरे में भी चमकती रेत, आसमान छूते नारियल के पेड़, बड़ी-बड़ी लहरें और शानदार सी-फूड… गोवा का नाम लेते ही आंखों के सामने यही सब चीजें आती है। वैसे आपको बता दें कि गोवा में इन सब चीजों के अलावा और भी कई रंग हैं। जानें इनके बारे में –

पणजी

गोवा की राजधानी पणजी एक छोटा सा शहर जरूर है लेकिन बहुत ही खूबसूरत है। ये शहर चांदी-सी चमकती धाराओं वाली मांडवी नदी के किनारे पर बसा हुआ है और लाल छतों वाले मकान, खूबसूरत बगीचे, शिल्पकारी वाली मूर्तियां, गुलमोहर और हरे-भरे पेड़ों की छाया इन सबसे सजा हैं पणजी का शहर। हर कोई यहां की खूबसूरती में खो जाता है।

मीरामार बीच

पणजी से सिर्फ 3 किलोमीटर की दूरी पर बने इस खूबसूरत सुनहरे समुद्री तट की मुलायम रेत, ताड़ के पेड़ और अरब सागर की नीली छटा। इसे देखकर हर किसी का मन खो जाता है। इसकी खूबसूरती की वजह से इसे ‘गोल्डन बीच’ भी कहा जाता है।

इमेक्यूलेट कंसेप्शन चर्च और रिस मगोस फोर्ट

अवर लेडी ऑफ इमेक्यूलेट कंसेप्शन चर्च गोवा में बनने वाला पहला चर्च था इसे साल 1541 में बनाया गया था। पहले बना चर्च पूरी तरह से नष्ट हो गया था और इसे फिर से साल 1619 में बनाया गया था। तब यहां आबादी न के बराबर ही थी। नए चर्च का आकार बताता है कि उस समय का धार्मिक माहौल क्या रहा होगा और चर्चों के पास कितनी दौलत होगी।

अगौड़ा किला

अगौड़ा किला गोवा के इतिहास का गवाह है। इस किले का निर्माण साल 1612 में पुर्तगालियों ने मराठाओं और डच के हमले से बचने के लिए किया था। इस किले में ताजे पानी का एक झरना है। जो इस जगह से गुजरने वाले लोगों की पानी की जरुरत को पूरी करता था। ये किला पुर्तगालियों के सभी जरूरी गतिविधियों का केंद्र था।

बोंडला वाइल्डलाइफ सेंचुरी

अगर आप भी बारिश के मौसम में गोवा जाने का मन बना रहे हैं तो अपने पसंदीदा जानवरों को करीब से देखने के लिए एक बार बोंडला वाइल्डलाइफ सैंचुरी जरुर जाएं। गोवा की ये छोटी सी लेकिन बहुत ही मशहूर सेंचुरी शहर के उत्तरपूर्वी इलाके में पोंडा तालुका में बनी है। सिर्फ 8 किलोमीटर में फैली बोंडला सेंचुरी ज्यादातर घने जंगल और सदाबहार वनस्पति से घिरा है। इस सेंचुरी में एक मिनी चिड़ियाघर, गुलाब गार्डन, डीयर सफारी पार्क, बॉटनिकल गार्डन, नेचर एजुकेशन सेंटर और ईको-टूरिज्म कॉटेज भी है।

बागा बीच

गोवा में कई आकर्षक बीच हैं और गोवा का नाम लेते ही दिमाग में सुपर एडवेंचरस बागा बीच का नाम बहुत पहले ही आता है। जिसको भी गोवा की खूबसूरती देखने का मौका मिलता है वो मानता है कि बागा बीच सबसे रोमांचक बीच में से एक है।

अर्वलेम झरना

ये झरना उत्तर गोवा में सिंक्वेलिम शहर से 2 किलोमीटर दूर है। 24 फीट उंचा ये झरना एक बहुत ही खूबसूरत और सबका पसंदीदा पिकनिक स्पॉट है। इस झरने को रुद्रेश्वर मंदिर की सीढि़यों से भी देखा जा सकता है और सरकार ने इस झरने के पास एक पार्क भी बनवाया है जिससे लोग इसकी खूबसूरती का मजा ले सकते हैं। उंचाई से झर्रझर्र करके गिरते इस झरने का पानी सचमुच बहुत प्यारा दिखता है।

arvalem-waterfalls

अर्वलेम केव्स

अपने खूबसूरत तटों और झरनों के अलावा गोवा को विरासत में वास्तुकला भी मिली है। गोवा एक पुराना राज्य है और इसकी वास्तुकला भी बहुत ही ऐतिहासिक है। गोवा में मौजूद ऐतिहासिक स्मारकों में से सबसे खूबसूरत नमूना अर्वलेम केव्स हैं। नॉर्थ गोवा के बिचोलिम शहर में ये गुफाएं चट्टानों को काटकर बनाई गईं थीं। जो कि पौराणिक कहानियों को अच्छे से समझाती है। इस गुफा का निर्माण 6वीं सदी का है।

गोवा के चर्च

यहां के चर्च काफी मशहूर हैं और गोवा में रहे पुर्तगालियों के लंबे राज की वजह से यहां पर कई चर्च हैं। पूजाघर होने के अलावा ये चर्च पिछले समय की खूबसूरत वास्तुकला का नमूना भी हैं। गोवा के कुछ प्रसिद्ध चर्च हैं- सेंट कैथेड्रल चर्च, सेंट फ्रांसिस ऑफ असीसी, बेसिलिका ऑफ बॉम जीसस, सेंट ऑगस्टीन चर्च. गोवा आने वाले ज्यादातर सैलानी इन्हें देखते हैं।

सेंट कैथेड्रल चर्च

यहां का सबसे पुराना, बड़ा और सुंदर र्चच है। इस चर्च में 5 घंटे लगे हैं और इसका एक सोने का घंटा गोवा में सबसे बड़ा है और दुनिया के कुछ सबसे अच्छे घंटों में से एक है। इसके अलावा र्चच ऑफ सेंट फ्रांसिस, सेंट आगस्टीन टॉवर, र्चच ऑफ आवर लेडी ऑफ रोजरी भी हैं।

goa-church

चपोली डैम

मडगांव से 40 किलोमीटर दूर चपोली डेम पहाड़ों से घिरी हुई घाटी में होने की वजह से प्राकृतिक आकर्षण को और ज्यादा बड़ा देती है। जिन्हें भी मछली पकड़ना पसंद है तो ये जगह उनके लिए बिल्कुल सही हैं।

महालक्ष्मी मंदिर

बंडोरा गांव में महालक्ष्मी मंदिर है और इस मंदिर का खूबसूरत चैक इसका सबसे बड़ा आकर्षण है। इस मंदिर का निर्माण 1413 ईस्वी में किया गया था और देश भर से लोग इसे देखने के लिए आते हैं खासतौर पर नवरात्रि के वक्त।

वागातोर बीच

वागातोर बीच नॉर्थ गोवा में पणजी से लगभग 22 किलोमीटर दूर स्थित है। ये गोवा के बाकि तटों के मुकाबले कम भीड़ वाला है। इसमें सफेद रेत, काली लावा चट्टानें, नारियल और खजूर के पेड़ की सधी कतारें लगी हैं। साथ ही यहां पर 500 साल पुराना पुर्तगाली किला भी है। वागातोर का ये सफेद रेतीला बीच ‘बिग वागातोर’ और ‘लिटिल वागातोर’ के नाम से भी जाना जाता है और ये चपोरा किले की ऊंचाई से खूबसूरत दिखाई देता है।

ये भी पढ़ें

TIPS TRAVEL SOLO

अगर अकेले घूमने के हैं शौकीन तो इन बातों का जरूर रखें ध्यान

अक्सर कुछ लोगों को अकेलापन बहुत पसंद होता है। कई बार लोगों का मन करता …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *