Wednesday , December 19 2018
Home > Understand India > सरकारी योजनाओं का क्या फायदा? जब एक गरीब को भूख मिटाने के लिए जान देनी पड़ी

सरकारी योजनाओं का क्या फायदा? जब एक गरीब को भूख मिटाने के लिए जान देनी पड़ी

एक आदमी को इतनी भूख लगती है कि उसे चोरी करनी पड़ती है। हमारे देश की तमाम योजनाओं की विफलता यहीं शरू हो जाती है। सरकार किसी की भी हो योजनाओं की सफलता का प्रचार तो ऐसे कराया जाता है जैसे देश की गरीबी मिटा दी हो। गरीबों के लिए केंद्र और राज्य दोनों ओर से तमाम योजनाएं चलायी जाती हैं लेकिन ये किस काम के जब इनका फायदा असल हकदार तक न पहुंचे।

 

विडंबना देखिए इस देश की, भूख लगने पर थोड़े से चावल चुराकर एक आदमी चोर हो जाता है। वो भी उस धरती पर जहां खरबों के घोटाले करने वाले बिना किसी परेशानी में फंसे देश छोड़कर चले जाते हैं।

 

ये भी पढ़ें- खाना चुराने के आरोप में एक गरीब की पीट-पीटकर हत्या, मारते वक्त ले रहे थे सेल्फी

ये मामला केरल का है। जहां इस भूखे इंसान को खाना चुराने के आरोप में इसे बंधी बनाया जाता है और पीट-पीटकर उसकी हत्या कर दी जाती है। हैरान करने वाली बात यह है कि ये सब होता है उस राज्य में जिसकी साक्षरता दर 95% से ज्यादा है।

 

पढ़ने-लिखने से समाज का विकास होने के सिद्धांत को मुंह चिढ़ाया जाता है और एक असहाय व्यक्ति को बंधी बनाकर, उसे पीटकर, उसके साथ सेल्फी लेकर आनंदित हुआ जाता है। उस सेल्फी को जीत के सूचक के रूप में लहराया जाता है।

 

 

ऐसे लोगों में पढ़-लिखकर क्या बदल गया? उनकी राक्षसी प्रवृत्ति उनके कलम पकड़ लेने से कहीं धुमिल नहीं हुई। वो एक भूखे और कमजोर व्यक्ति को तड़पाकर उसकी तकलीफ में अपनी खुशी तलाश रहे हैं, मगन हो रहे हैं।

 

इस भयावह तस्वीर को देखकर लगता है कि संवेदन शून्यता की ओर बढ़ने के लिए रोबोट जैसी चीजे बहाना भर हैं, आदमी अपने आप में कम वहशी नहीं है।

 

यह तस्वीरें सोचने को मजबूर कर रही हैं। मन ये देखकर उदास हो जाता है कि शिक्षा से भी हमेशा सब नहीं बदलता। पढ़े लिखे लोग भी वहशीपने में भारतीय लोकतंत्र के आंगन में कबीलाई तंत्र चला लेते हैं। सोचिए जरा वो भूखा इंसान मरने के कुछ सेकेंड पहले क्या सोचा होगा…शायद ये कि मुझे भूखा ही रह जाना चाहिए था।

 

ये भी पढ़ें

Atal Bihari Vajpayee age 10 unseen pics facts

अटल बिहारी वाजपेयी की 10 दुर्लभ तस्वीरें और रोचक तथ्य

भारत के 93 साल (उम्र) के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी अब इस दुनिया में नहीं रहे। …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *