Tuesday , September 17 2019
Home > Sports > कौन है विजय शंकर जो सिर्फ 3 महीनों के खेल से चुने गए वर्ल्ड कप टीम में
who is vijay shankar cricketer in india world cup team 2019
Photo Source: ESPNCricinfo

कौन है विजय शंकर जो सिर्फ 3 महीनों के खेल से चुने गए वर्ल्ड कप टीम में

ICC वर्ल्ड कप के लिए टीम इंडिया का ऐलान हो गया है। टीम इंडिया में वर्ल्ड कप के लिए धोनी जैसे अनुभवी खिलाड़ियों के साथ-साथ विजय शंकर (Vijay Shankar) जैसे नए चेहरों को मौका दिया गया है। इस बार 15 खिलाड़ियों की टीम का ऐलान किया गया है।

तो चलिए जानते हैं कि कम अनुभव होने के बाद भी विजय शंकर वर्ल्ड कप टीम में क्यों चुना गया।

आंकड़ों के मुताबिक, विजय शंकर ने अब तक 9 वनडे मैच, 9 T-20 और 25 IPL मैच खेले हैं।

विजय शंकर परफॉर्मेंस-

वनडे में 33 की औसत से कुल 165 रन, 2 विकेट
T-20 में 25 के औसत से 101 रन, 5 विकेट
IPL की 22 इनिंग में 445 रन, 1 विकेट

विजय तमिलनाडु के लिए खेलते हैं और तमाम फॉरमेट में अच्छा खेल खेलते रहे हैं। विजय एक मध्यक्रम के बल्लेबाज है और वो मध्यम तेज गति से अच्छी गेंदबाजी भी करते हैं। विजय क्रिकेटर्स के परिवार से ही आते हैं। उनके पिता और भाई तमिलनाडु के लिए लोअर डिविजन क्रिकेट खेल चुके हैं।

आपको बता दें कि विजय ने 2012 में फर्स्ट क्लास क्रिकेट में एंट्री की थी। उसके बाद वो साल 2014-15 रणजी में अच्छा प्रदर्शन किया था, 2 बार मैन ऑफ द मैच बने, फिर वो जल्द ही इंडिया-ए में चुने गए।

Credit: AP

वो भारत की तरफ से श्रीलंका और बांग्लादेश के साथ हुए निदहास ट्रॉफी में खेल चुके हैं। IPL में विजय शंकर CSK, SRH, DD, के लिए खेल चुके हैं।

कम वक्त में वर्ल्ड कप टीम में ऐसे बनाया जगह

एक साल पहले अंतर्राष्ट्रीय T-20 क्रिकेट में डेब्यू करने वाले विजय शंकर ने बहुत कम ही वक्त में विश्व कप की टीम में जगह बना ली है। उन्होंने पिछले साल 6 मार्च को श्रीलंका के खिलाफ T-20 से डेब्यू किया था। सिर्फ तीन महीने पहले ही अंतर्राष्ट्रीय वनडे क्रिकेट में कदम रखने वाले शंकर ने अपने प्रदर्शन से अपनी अलग छाप छोड़ दी है। उन्होंने मेलबर्न में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 18 जनवरी को डेब्यू किया था।

विजय शंकर को टीम में लेने से क्या होगा फायदा-

विजय शंकर बीच के ओवरों में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करके रनों की गति को तेज करने में मदद कर सकते हैं। उन्हें नंबर 4 पर भी खिलाया जा सकता है। वो टीम में हार्दिक पांड्या के बैकअप के रूप में बतौर ऑलराउंडर शामिल किए गए हैं। टीम में वो दोहरी भूमिका निभाने में सक्षम है, इसलिए वो टीम में जगह बना सके हैं।

पढ़ें- वर्ल्ड कप इंडिया टीम लिस्ट: जानिए किन्हें पहली बार टीम में मिला है मौका

ये भी पढ़ें

what-is-obstructing-the-field-out-rule-of-cricket क्या है Obstructing The Field

क्या है Obstructing The Field? क्रिकेट इतिहास में 10 बार इस नियम से आउट हुए बल्लेबाज

Obstructing the field जिसे हिन्दी में ‘मैदान में बाधा उत्पन्न करना’ कहा जाता है। किसी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *