Tuesday , December 10 2019
Home > Amazing World > दुनिया की सबसे छोटी बच्ची, वजन सिर्फ एक सेब के बराबर
दुनिया की सबसे छोटी बच्ची
Credit : AFP

दुनिया की सबसे छोटी बच्ची, वजन सिर्फ एक सेब के बराबर

अमरीका के एक अस्पताल में 245 ग्राम की बच्ची ने जन्म लिया है जिसे दुनिया की सबसे छोटी बच्ची कहा जा रहा है। इस बच्ची का नाम सेबी रखा गया है। जन्म के वक्त इस बच्ची का वजन एक बड़े साइज के सेब के बराबर था। इस बच्ची का जन्म दिसम्बर 2018 में हुआ था।

23 हफ्तों में ही ले लिया था जन्म

दरअसल सेबी ने 23 हफ्ते और तीन दिन में ही जन्म ले लिया था। बच्ची के जिंदा रहने की उम्मीद काफी कम थी इसलिए बच्ची को कैलिफोर्निया में सैन डिएगो के शार्प मैरी बर्च अस्पताल में नियोनेटल इंटेसिव केयर यूनिट में रखा गया। डॉक्टर ने सेबी के माता-पिता को बता दिया था कि जिंदा रहने के लिए उसके पास कुछ ही घंटे हैं।

लेकिन इस बच्ची ने पांच महीनों तक कड़ी निगरानी में रहने के बाद सभी को गलत साबित कर दिया और अब उसे स्वस्थ और ढ़ाई किलो वजन के साथ डिस्चार्ज कर दिया है। द टिनिएस्ट बेबी रजिस्ट्री ने कहा कि समय से पहले जन्म लेने वाली सेबी को दुनिया की सबसे छोटी नवजात मान रहे हैं। इससे पहले 2015 में ये रिकोर्ड जर्मनी के एक नवजात के नाम था, जिसका वजन 252 ग्राम था।

शरीर में गलत जगह लगे थे कई ऑर्गन्स, फिर भी 99 साल तक जीवित रही महिला

इस साल की शुरुआत में जापान में एक बच्चे का जन्म के समय वजन 268 ग्राम था। ऐसा माना जा रहा था कि वो समय से पहले जन्म लेने वाला सबसे छोटा लड़का है।

क्या होता है प्री-एक्लेमप्सिया

प्री-एक्लेमप्सिया के पता चलने के बाद सेबी की मां ने डिलीवरी के तय समय से तीन महीने पहले ही बच्ची को जन्म दे दिया। प्री-एक्लेमप्सिया गर्भावस्था की एक स्थिति है जिसमें लगभग 20 हफ्ते के बाद खून का प्रवाह कम होने लगता है, जिसकी वजह से बच्चे को ऑक्सीजन और पोषक तत्व नहीं मिल पाता है और ऐसे में मां और बच्चे दोनों को खतरा हो सकता है।

लेकिन वो बच्ची जब पैदा हुई तो इतनी छोटी थी कि देखभाल करने वाले स्टाफ के हाथों की हथेली में आ सकती थी। डॉक्टरों का मानना ​​है कि उसेक जिंदा रहने का कारण ये भी है कि उसे जन्म के बाद कोई गंभीर बीमारी नहीं हुई हैं।

ये भी पढ़ें

dog-waits-outside-hospital-where-his-owner-dead

मालिक दुनिया में नहीं रहा लेकिन महीनों बाद भी उसका इंतजार कर रहा ये वफादार

हमेशा से माना जाता है कि कुत्ते वफादार होते हैं। कई बार इनकी वफादारी की …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *